Update Vs Upgrade में क्या अंतर (Difference) है ? पूरी जानकारी जानिए यहाँ

अपग्रेड को एंड्राइड फ़ोन और कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम में किया जाता है, जैसे की एंड्राइड फ़ोन के स्मार्टफोन पर OS एंड्रॉइड 10 है। जब मोबाइल फ़ोन को अपग्रेड किया जाएगा, तो एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम 11 पर स्विच हो जाएगा।

Photo of author

Reported by Sheetal

Published on

Update Vs Upgrade :- दोस्तों जैसा की हम सभी अपने दैनिक जीवन में एंड्राइड मोबाइल, लैपटॉप और डेस्कटॉप आदि का उपयोग करते है। मोबाइल, लैपटॉप हर एक व्यक्ति के दैनिक जीवन की जरूरत बन गया है। मोबाइल, लैपटॉप एक टेक्निकल डिवाइस है, जो घर बैठे लोगो को सारी सुविधाएं देता है। मोबाइल, लैपटॉप की वजह से लोगों के मुश्किल काम आसान हो गए है, तथा लैपटॉप, मोबाइल आने की वजह से सभी काम आसान हो गए है।

जब हम टेक्निकल गैजेट का उपयोग करते है, तो उस समय हमे टेक्निकल गैजेट से सम्बंधित 2 शब्द सुनने को मिलते है। अपडेट और दूसरा अपग्रेड कुछ लोग इन दोनों शब्दों का मतलब एक ही समझते है, परन्तु ऐसा कुछ भी नहीं है यह दोनों शब्द एक दूसरे के विपरीत होते है। आज हम आपको अपडेट और अपग्रेड में अंतर् और विस्तारपूर्वक जानकारी देने जा रहें है, सभी जानकारी को जानने के लिए हमारे लेख को अंत तक पढ़ें।

यह भी देखें >>>साइबर क्राइम क्या है? इसके प्रकार एवं बचाव के उपाय, जानें यहाँ विस्तार से 

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

Update क्या है ?

जब हम स्मार्टफोन, लैपटॉप का उपयोग करते है, तो समय -समय के साथ ऐप अपडेट के नोटिफिकेशन्स आने लगते है। प्लेस्टोर में ऐप अपडेट के लिए एक विकल्प भी आता है। जब आप ऐप या सॉफ्टवेयर को अपडेट करते है, तो उसके बाद उसमें कुछ नए फीचर देखने को मिलते है। ऐप को अपडेट करने के बाद ऐप में पहले से अधिक इम्प्रूवमेंट देखने को मिलता है। ऐप को अपडेट के बाद नए नए फीचर ऐड देखने को मिलते है। और जो भी किसी प्रकार का बग होता है, उसको रिमूव कर दिया जाता है।

संबंधित खबर jio launched cheap laptop jio book

Jio ने लॉन्च किया सस्ता लैपटॉप Jio Book, इतने रुपये है कीमत, साथ में हैं दमदार फीचर्स

Upgrade क्या है ?

अपग्रेड को एंड्राइड फ़ोन और कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम में किया जाता है, जैसे की एंड्राइड फ़ोन के स्मार्टफोन पर OS एंड्रॉइड 10 है। जब मोबाइल फ़ोन को अपग्रेड किया जाएगा, तो एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम 11 पर स्विच हो जाएगा। जिसके बाद एक नया इंटरफेस देखने को मिलेगा, जो बहुत ही बेहतर होगा। और कंप्यूटर में ऑपरेटिंग सिस्टम एक विंडो के रूप में देखने को मिलती है, जब विंडो को अपग्रेड किया जाता है।

तो उसके बाद एक नयी विंडो देखने को मिलती है, जिसके बाद पूरा सिस्टम बदल जाता है। जो लोग कंप्यूटर, लैपटॉप का उपयोग करते है, उनको विंडो के बारे में अधिक समझ आएगा। सिस्टम में अपग्रेड करने के बाद लुक और फीचर के साथ सॉफ्टवेयर को एक अलग नाम से लांच किया जाता है। उदाहरण :- वर्शन फाइव लॉलीपॉप, वर्शन सिक्स मार्शमैलो, नौगट, वर्शन। अपग्रेड आम तौर पर ऑपरेटिंग सिस्टम में किया जाता है, तथा सिस्टम को अपग्रेड करने के बाद कंप्यूटर या मोबाइल का सिस्टम बिलकुल चेंज हो जाता है।

Update Vs Upgrade में क्या अंतर है ?

अपडेट अपग्रेड
अपडेट सॉफ्टवेयर ऍप्लिकेशन्स में करना होता है।एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम में किया जाता है।
यदि आपने अपने एंड्राइड फ़ोन में सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन और आप उसको अपडेट करना चाहते है, तो वो बिल्कुल फ्री में होगा। सॉफ्टवेयर अपडेट के लिए कोई पैसे देने की आवश्यकता नहीं होती है।यदि आप अपने ऑपरेटिंग सिस्टम को अपग्रेड करना चाहते है, तो उसके लिए आपको पैसे देने होंगे।
सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन को अपडेट करने से ऑपरेटिंग सिस्टम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।ऑपरेटिंग सिस्टम को अपग्रेड करने के बाद फ़ोन / सिस्टम के सारे एप्लीकेशन खुद ही अनइंस्टाल हो जाते है।
अपडेट को सभी अपने एंड्राइड फ़ोन में खुद कर सकते है।परन्तु अपग्रेड कोई भी आम व्यक्ति खुद नहीं कर सकता है, उसको कोई एक्सपर्ट ही कर सकता है।
जब हम सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन को अपडेट करते है, तो वो कुछ ही समय में हो जाता है।अपग्रेड करने में काफी लम्बा समय लगता है।
अपडेट से फ़ोन या लैपटॉप पर प्रभाव नहीं पड़ता है।अपग्रेड से लैपटॉप या एंड्राइड फ़ोन का इंटरफ़ेस पूरा चेंज हो जाता है।
अपडेट सिर्फ एप्लीकेशन तक सिमित होता है।अपग्रेड कंप्यूटर या लैपटॉप के पुरे सिस्टम से जुड़ा होता है।

संबंधित खबर Adani Electric Vehicles

इलेक्ट्रिक गाड़ियों के कारोबार में आएंगे अडानी! उबर से मिलाएंगे हाथ, क्या है प्लान?

Leave a Comment

WhatsApp Subscribe Button व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp