Pok News: UAE के डिप्टी PM ने किया ऐलान, PoK भारत का अभिन्न अंग, देखें

G-20 समिट को कश्मीर में करने को लेकर भी पाकिस्तान ने अपनी आपत्ति जाहिर की थी। वो इस क्षेत्र को विवादित कह रहा था। लेकिन पाकिस्तान की इन सभी साजिशो का कोई भी परिणाम नहीं हुआ और इस समय यूएई ने भी पाक को करारा झटका दिया है।

Photo of author

Reported by Sheetal

Published on

पाकिस्तान हमेशा से ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर को लेकर झूठ फैलाता रहा है किन्तु सच को छिपाया नहीं जा सकता है। पाकिस्तान से घनिष्ट सम्बन्ध रखने वाले संयुक्त अरब अमीरात (UAE) का मानना है कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर यानी PoK भी भारत का अभिन्न अंग है।

यूएई के उपप्रधानमंत्री सैफ बिन जायद अल नाहयान (Saif bin Zayed Al Nahyan) का एक वीडियो आया है जिसमे वे भारत-मध्य-पूर्व-यूरोप इकनोमिक कॉरिडोर के बारे में बात कर रहे है। इस वीडियों में पूरे कश्मीर को भारत वाले हिस्से में ही दर्शाया गया है और इसमें पीओके से लेकर अक्साई चिन का क्षेत्र शामिल है।

Table of Contents

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

भारत की डिप्लोमेटिक जीत

इस समय एक खास इस्लामिक देश के कश्मीर के मुद्दे पर भारत का साथ देने से पाकिस्तान का बड़ा आघात पहुँचा है। अब अनुमान लग रहे है कि इस मैप से यूएई ने पाकिस्तान को खास कूटनीतिक सन्देश दिया है। इस तरह से यूएई का भारत का साथ देना देश की सरकार की कूटनीतिक सफलता का परिणाम है।

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के उप प्रधानमंत्री ने बीते दिनों भारत में हुए G-20 समिट के समय का एक वीडियो साझा किया है इसमें एक आर्थिक गलियारे को दिखाते हुए पीओके को भारत का अंग दर्शाया गया है। पीओके वह क्षेत्र है जिस पर पाकिस्तान का गैरक़ानूनी कब्जा है।

IMEC क्या है?

यह एक आर्थिक गलियार है जोकि भारत को गल्फ क्षेत्र से जोड़ने और पूर्वी गलियारे एवं गल्फ को यूरोप से जोड़ने के काम में उत्तरी कॉरिडोर को बनाकर शामिल किया गया है। इस गलियारे में रेल नेटवर्क एवं जलयान सहित सड़को के नेटवर्क शामिल रहेंगे। इस प्रकार से भारत, खाड़ी देश एवं यूरोप रेल, सड़क एवं पानी के रास्तो से आपस में जुड़ने वाले है।

अमेरिका, भारत, यूएई एवं सऊदी अरब, फ़्रांस, जर्मनी, इटली एवं यूरोपियन यूनियन ने G-20 सम्मेलन में 9 सितम्बर के दिन इसको लेकर घोषणाएँ की थी।

कश्मीर में यूएई ने निवेश भी किया

यूएई ने पहले समय से ही कश्मीर में अपना पैसा इन्वेस्ट किया है। दुबई के एक रियल एस्टेट डेवेलपर एम्मार ने श्रीनगर में 10 लाख स्क़्वेर फुट के बड़े मॉल में इन्वेस्ट किया है जोकि पहली विदेशी कम्पनी भी है। इस कम्पनी ने ये काम कश्मीर के विशेष राज्य की मान्यता के समाप्त होने के बाद साल 2019 में किया था।

संबंधित खबर anantnag-encounter-operation-intensified-in-jammu-kashmir

अनंतनाग आतंकी हमले में कर्नल, मेजर सहित पुलिस DSP शहीद हुए, हमले के पीछे आतंकी संगठन TRF की साजिश

एम्मार के इस मॉल की नींव को जम्मू एन्ड कश्मीर के उपराज्यपाल ने रखा था। कंपनी ने इस सुपर मॉल के निर्माण में 250 करोड़ रुपयों का इन्वेस्टमेंट किया है। ये मॉल 500 से भी ज्यादा शॉप के साथ इस क्षेत्र का सर्वाधिक बड़ा मॉल होने जा रहा है। ये निवेश राज्य का पहला फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट भी कहा जा रहा है।

G-20 समिट में पाकिस्तान का प्रोपगेंडा

बीते दिनों भारत में हो रहे G-20 समिट में भी पाकिस्तान ने इसके सदस्य देशों को लेटर लिखकर झूठे आरोप लगाने की कोशिशे की थी। पाकिस्तान का कहना है कि भारत जम्मू-कश्मीर में मानव अधिकारों को तोड़ रहा है। इस प्रकार से G-20 के सदस्य देशो की जिम्मेदारी है कि वे भारत को मानवाधिकारों को मानने के लिए कहे।

G-20 समिट को कश्मीर में करने को लेकर भी पाकिस्तान ने अपनी आपत्ति जाहिर की थी। वो इस क्षेत्र को विवादित कह रहा था। लेकिन पाकिस्तान की इन सभी साजिशो का कोई भी परिणाम नहीं हुआ और इस समय यूएई ने भी पाक को करारा झटका दिया है।

यह भी पढ़ें :- सामने आया चीन का असली नक्शा पूर्व जनरल नरवणे ने किया ट्वीट कहा – ‘आखिरकार किसी को चीन का नक्शा वैसा ही मिल गया जैसा वह असल में है

पाक ने यूएई पर आपत्ति जताई

यूएई के उप प्रधानमंत्री के द्वारा पीओके को भारत का अंग दिखाने की घटना के बाद पाकिस्तान भी काफी खफा हुआ है। अपनी वीकली प्रेस कॉन्फ्रेंस में उनकी ओर से कहा गया है – ‘हमको आशा है कि हमारे अंतर्राष्ट्रीय भागीदार फैक्ट्स पर सही से ध्यान देंगे और पाकिस्तान के भाग को नक़्शे में भारत का दर्शाना काफी गलत है।’

संबंधित खबर 8वें वेतन आयोग की राह में क्या हैं चुनौतियाँ?, जानिए क्या है सरकार का प्लान

8वें वेतन आयोग की राह में क्या हैं चुनौतियाँ?, जानिए क्या है सरकार का प्लान

Leave a Comment

WhatsApp Subscribe Button व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp