EPFO पेंशनभोगियों के लिए खुशखबरी: अब घर बैठे 1 मिनट में जमा करें जीवन प्रमाण पत्र

ईपीएफओ ने पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की प्रक्रिया को आसान बना दिया है। अब डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र और फेस ऑथेंटिकेशन तकनीक के माध्यम से पेंशनभोगी अपने घर बैठे ही यह प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं, जिससे उनकी समस्याएं कम हो गई हैं और वे आसानी से पेंशन का लाभ ले सकते हैं।

Photo of author

Reported by Sheetal

Published on

EPFO पेंशनभोगियों के लिए खुशखबरी: अब घर बैठे 1 मिनट में जमा करें जीवन प्रमाण पत्र
life certificate

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) में 78 लाख से अधिक पेंशनभोगी हैं। इन पेंशनभोगियों को हर साल अपनी पेंशन प्राप्त करने के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करना आवश्यक होता है। पहले, यह काम पेंशनभोगियों के लिए काफी कठिन था क्योंकि उन्हें भौतिक जीवन प्रमाण पत्र जमा करने के लिए बैंकों में जाना पड़ता था। इस प्रक्रिया में कई समस्याओं का सामना करना पड़ता था, लेकिन अब इस समस्या का समाधान कर दिया गया है।

डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र क्या है?

EPFO ने 2015 में अपने पेंशनभोगियों की सुविधा के लिए डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र (Digital Life Certificate (DLC)) की शुरुआत की। इससे पेंशनभोगियों को बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से डीएलसी जमा करने की सुविधा मिली। बायोमेट्रिक आधारित डीएलसी जमा करने के लिए पेंशनभोगी को किसी भी बैंक, डाकघर, कॉमन सर्विस सेंटर या ईपीएफओ कार्यालय में जाना होता है, जहां फिंगरप्रिंट या आईरिस कैप्चर डिवाइस उपलब्ध होती है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पेंशनभोगियों के लिए राहत का संदेश

बुजुर्ग पेंशनभोगियों को बैंक या डाकघर जाने की परेशानी से बचाने के लिए, MEITY और UIDAI ने फेस ऑथेंटिकेशन तकनीक (Face Authentication Technology (FAT)) विकसित की है। यह तकनीक जीवन प्रमाण पत्र के प्रमाण के लिए चेहरे की पहचान का उपयोग करती है। ईपीएफओ ने जुलाई 2022 में इस तकनीक को अपनाया, जिससे पेंशनभोगियों को अपने घर से ही डीएलसी जमा करने की सुविधा मिली। यह प्रक्रिया आसान और सस्ती भी है। अब पेंशनभोगी किसी भी एंड्रॉइड स्मार्टफोन का उपयोग कर इस प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं और बैंक या डाकघर जाने की परेशानी से बच सकते हैं।

घर बैठे 1 मिनट में भरें जीवन प्रमाण पत्र

फेस ऑथेंटिकेशन के माध्यम से पेंशनभोगियों की पहचान उनके घर बैठे ही स्मार्टफोन कैमरे का उपयोग करके चेहरे के स्कैन द्वारा की जा सकती है। यह प्रमाणीकरण UIDAI Face Recognition App का उपयोग करके UIDAI के आधार डेटाबेस से किया जाता है।

60 लाख पेंशनभोगियों ने अपनाई नई तकनीक

ईपीएफओ में इस तकनीक की शुरुआत के बाद, 2022-23 में 2.1 लाख पेंशनभोगियों ने फेस ऑथेंटिकेशन तकनीक का उपयोग करके डीएलसी जमा किया। 2023-24 में यह संख्या बढ़कर 6.6 लाख हो गई, जो इस तकनीक के उपयोग में 200 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाती है। 2023-24 में 6.6 लाख FAT आधारित DLC कुल प्राप्त डीएलसी का लगभग 10 प्रतिशत था। पिछले वित्तीय वर्ष में कुल मिलाकर लगभग 60 लाख डीएलसी प्राप्त हुए थे।

दो महत्वपूर्ण एप्लिकेशन

पेंशनभोगी अब अपने स्मार्टफोन का उपयोग करके घर बैठे ही आसानी से अपना जीवन प्रमाण (डीएलसी) जमा कर सकते हैं। यह सुविधा आधार फेस आरडी और जीवन प्रमाण ऐप के माध्यम से प्रदान की जाती है।

संबंधित खबर EPFO Claim Status: ऐसे चेक करें अपना पीएफ क्लेम स्टेटस, आसानी से

EPFO Claim Status: ऐसे चेक करें अपना पीएफ क्लेम स्टेटस, आसानी से

आवश्यक चरण:

  1. अपने स्मार्टफोन पर प्ले स्टोर से “आधार फेस आरडी” और “जीवन प्रमाण” ऐप डाउनलोड करें।
  2. दोनों ऐप्स में ऑपरेटर का प्रमाणीकरण अपने आधार से जुड़े मोबाइल नंबर के माध्यम से करें।
  3. जीवन प्रमाण ऐप में, “चेहरे से प्रमाणीकरण” विकल्प चुनें और स्क्रीन पर दिए गए निर्देशों का पालन करें।
  4. सफल फेस स्कैन के बाद, आपकी डीएलसी सबमिशन की पुष्टि मोबाइल स्क्रीन पर जीवन प्रमाण आईडी और पीपीओ नंबर के साथ होगी।

यह प्रक्रिया सरल, सुविधाजनक और सुरक्षित है, और पेंशनभोगियों को बैंक या कार्यालय में जाने की आवश्यकता को समाप्त करती है।

EPS पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र जमा करने में आसानी

EPS पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र (डीएलसी) जमा करने की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए, जुलाई 2022 में EPFO ने चेहरे की पहचान तकनीक का उपयोग करते हुए एक अभिनव और सुविधाजनक प्रणाली शुरू की। इस नई पहल को सभी क्षेत्रीय कार्यालयों में लागू किया गया और पेंशनभोगियों को जागरूक करने के लिए व्यापक निर्देश जारी किए गए।

इसके अलावा, EPFO ने जनवरी 2023 से पूरे देश में “निधि आपके निकट” कार्यक्रमों का आयोजन किया, जहाँ पेंशनभोगियों को इस नई प्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई और उन्हें डीएलसी जमा करने में सहायता प्रदान की गई।

यह नई तकनीक पेंशनभोगियों, खासकर वरिष्ठ नागरिकों के लिए डीएलसी जमा करने की प्रक्रिया को सरल और सुविधाजनक बनाती है, जिससे उन्हें बैंक या कार्यालय के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होती है।

संबंधित खबर SMS से PF बैलेंस कैसे चेक करें? जानें

SMS से PF बैलेंस कैसे चेक करें? जानें

Leave a Comment

WhatsApp Subscribe Button व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp