Hindi Diwas: हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं, हिंदी भाषा से जुड़े ये फैक्ट जरूर जानें

हिंदी भाषा की लिपि देवनागरी लिपि है अर्थात हिंदी भाषा को देवनागरी लिपि में लिखा गया है। हिंदी भाषा को लिखने में देवनागरी लिपि का इस्तेमाल किया जाता है। देवनागरी लिपि में सभी अल्फ़ासिलैबिक लिपियाँ शामिल है।

Photo of author

Reported by Sheetal

Published on

Hindi Diwas: 14 सितम्बर 1949 को हिंदी भाषा को राजभाषा या आधिकारिक भाषा का दर्जा प्राप्त हुआ था। सबसे पहले 1953 में 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया गया था। तब से लेकर अब तक हर वर्ष 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। हिंदी भारत देश की राष्ट्र भाषा है जिसका प्रयोग दुनिया में भी कई देशों में किया जाता है।

भारत एक विभिन्नता से भरा देश है जिसके कारण यहाँ हर राज्य में अलग-अलग तरह की स्थानीय भाषा बोली जाती है परन्तु हिंदी भाषा का प्रयोग देश में सबसे अधिक किया जाता है। परन्तु हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं? ये कई लोग तो जानते है परन्तु कई लोग इससे अनजान है तो कोई बात नहीं हम आपको इस आर्टिकल में हिंदी भाषा की लिपि, हिंदी भाषा से जुड़े फैक्ट आदि के बारे में बताने जा रहे है इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Table of Contents

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं?

हिंदी भाषा की लिपि देवनागरी लिपि है अर्थात हिंदी भाषा को देवनागरी लिपि में लिखा गया है। हिंदी भाषा को लिखने में देवनागरी लिपि का इस्तेमाल किया जाता है। देवनागरी लिपि में सभी अल्फ़ासिलैबिक लिपियाँ शामिल है। और ऐसी ही हिंदी भाषा भी इससे जुड़ी हुई है। हिंदी के अलावा संस्कृत, नेपाली, उर्दू, मराठी आदि भाषा भी देवनागरी लिपि में लिखी जाती है। आपने ब्राह्मी लिपि का नाम तो जरूर सुना होगा इससे ही देवनागरी लिपि उपजी हुई है।

देवनागरी लिपि को एक वैज्ञानिक लिपि भी कहा जाता है इसे आसानी से पढ़ा और लिखा जा सकता है। शिरोरेखा से देवनागरी लिपि को एक पहचान प्राप्त हुई है। देवनागरी लिपि 52 अक्षरों से मिलकर बनी होती है अर्थात 14 स्वर और 38 व्यंजन। इस लिपि का दूसरा नाम नगरी लिपि भी है। इसके दाएं से बाएं की और लिखा जाता है।

संबंधित खबर DSP, SSP Full Form: डीएसपी और एसएसपी का मतलब और दोनों में क्या अंतर है जानें

DSP, SSP Full Form: डीएसपी और एसएसपी का मतलब और दोनों में क्या अंतर है जानें

हिंदी भाषा से जुड़े ये फैक्ट जरूर जानें

हम आपको यहां पर हिंदी भाषा से जुड़े कुछ फैक्ट बताने जा रहे है जिसे आप नीचे देख सकते है।

  • 14 सितम्बर 1949 को हिंदी भाषा को आधिकारिक भाषा बनाया गया था।
  • सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष 250 करोड़ रूपए संयुक्त राष्ट्र आधिकारिक भाषाओं में हिंदी को शामिल करने पर लगाए जाते है।
  • भारत में हिंदी भाषा का उपयोग सबसे ज्यादा किया जाता है इसका इस्तेमाल लगभग 60 करोड़ लोग करते है।
  • दुनिया में रोजाना 25 से अधिक हिंदी भाषा में पत्र-पत्रिकाएं निकलती है।
  • दुनिया में करीबन 176 विश्वविद्यालयों में हिंदी पढाई जाती है।
  • प्रत्येक वर्ष 94 प्रतिशत हिंदी कंटेंट की मांग बढ़ती ही जा रही है।
  • भारत के अतिरिक्त सयुंक्त राज्य अमेरिका, सिंगापुर, मॉरीशस, युगांडा, दक्षिण अफ्रीका, जर्मनी, यमन, न्यूजीलैंड तथा नेपाल आदि एवं अन्य 20 से अधिक देशों में हिंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है।
  • हिंदी भाषा को आधिकारिक भाषा का दर्जा भारत में बिहार राज्य ने दिया है यह सबसे पहला राज्य बन गया है जिसने हिंदी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया है।
  • वर्ष 1881 तक बिहार की भाषा उर्दू थी जिसके स्थान पर हिंदी भाषा को आधिकारिक भाषा माना गया है।

देवनागरी लिपि की विशेषता क्या है?

देवनागरी लिपि की विशेषताएं नीचे निम्न प्रकार से दी हुई है जिसे आप ध्यान से पढ़ सकते है –

  • आज की देवनागरी लिपि और पुरानी लिपि में कुछ अंतर पाया जाता है। जो आधुनिक लिपि है इसमें 52 अक्षर पाए जाते है।
  • इस लिपि की लिखावट बाएं से दाएं की ओर है।
  • लिपि के जो चिन्ह है और उसकी जो ध्वनि है उनमे बहुत समानताएं देखनी को मिलती है।
  • इसमें छंदों को संख्या के अनुसार बांटा गया है।
  • इसमें सांकेतिक चित्रों का इस्तेमाल प्रत्येक ध्वनि के लिए किया जाता है।
  • इसमें एक वर्ण में ध्वनि परिवर्तन के लिए कई मात्राओं को इस्तेमाल में लाया जाता है।
  • इसमें 14 स्वर और 38 व्यंजन होते है जो मिलकर 52 अक्षर बनते है।

यह ख़बरें भी देखें –

संबंधित खबर Planets Name in Hindi-English: क्या आप सभी ग्रहों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में जानते हैं, यहां देखें

Planets Name in Hindi-English: क्या आप सभी ग्रहों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में जानते हैं, यहां देखें

Leave a Comment

WhatsApp Subscribe Button व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp