RAM और ROM तो सुना होगा, लेकिन क्या दोनों का काम और दोनों के अंतर के बारे में जानते हैं आप ? जानिए

आज कल के समय में ऑनलाइन काम करने के लिए हर जगह कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है चाहे आप निजी काम करते है या फिर ऑफिस में काम करते है आपको कंप्यूटर पर ही करना होता है। यह एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो हमारे जीवन का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। जब आप कंप्यूटर ... Read more

Photo of author

Reported by Sheetal

Published on

आज कल के समय में ऑनलाइन काम करने के लिए हर जगह कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ती है चाहे आप निजी काम करते है या फिर ऑफिस में काम करते है आपको कंप्यूटर पर ही करना होता है। यह एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो हमारे जीवन का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। जब आप कंप्यूटर चलाते तो आपने RAM और ROM तो जरूर सुना होगा या फिर आप इन दोनों के बारे में जानते होंगे अगर आप नहीं जानते तो आपको बता दे RAM और ROM कंप्यूटर से जुड़े हुए है और ये दोनों कंप्यूटर की मेमोरी है जिसमे कंप्यूटर का स्थायी व अस्थायी डाटा स्टोर किया जाता है। आज हम आपको इस आर्टिकल में RAM और ROM क्या है इन दोनों में क्या अंतर है आदि के बारे में पूरी जानकारी बताने जा रहे है इसलिए आप इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

RAM क्या है?

रैम का पूरा नाम Random Access Memory है। इसे कंप्यूटर का शॉर्ट टर्म मेमोरी कहते है, यह एक तरह की temporary मेमोरी होती है। जब भी आप मोबाइल या फिर कंप्यूटर में काम करते है तो पर्सेंट में हो रहे कार्य का जितना भी डाटा होता है वह इसे स्टोर करके रखता है। यदि आपके काम करते ही कप्यूटर ऑफ होता है तो इसका सारा डाटा खत्म हो जाता है।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

ठीक कंप्यूटर की तरह हमारे मोबाइल में भी होता है जब भी मोबाइल की बैटरी खत्म या फिर यह बंद हो जाता है तो इसका जो Temporary स्मृति का डाटा होता है वह सब समाप्त हो जाता है। यदि आप एक ही समय में फ़ोन चलाते वक्त विभिन्न एप्लीकेशन ओपन करते है तो फ़ोन चलने की जो गति होती है वह धीमे हो जाती है।

सेन्ट्रल प्रॉसेसिंग यूनिट (CPU) के तहत डाटा तथा प्रोग्राम को स्टोर करने का कार्य RAM द्वारा किया जाता है। इसमें आप जितनी बार अपने डाटा और प्रोग्राम को उसे करके डिलीट कर सकते है। रैम दो प्रकार की होती है पहली स्टेटिक रैम तथा दूसरी डायनेमिक रैम।

संबंधित खबर Esha Gupta

आश्रम 3 की ईशा गुप्ता ने बताया अपने बोल्ड सींस को कूल

ROM क्या है?

ROM का पूरा नाम Red Only Memory होता है। यह भी रैम की तरह कंप्यूटर की एक मेमोरी होती है इसे Permanant मेमोरी भी कहा जाता है। इसमें जो भी डाटा होता है वह प्री रिकॉर्ड हो जाता है। यदि काम करते करते आपका कंप्यूटर स्विच ऑफ हो जाता है तो उसके पश्चात भी इसका पूर्ण डाटा वापस प्राप्त किया जा सकता है मतलब कोई भी डाटा डिलीट नहीं होता अपितु वह रोम मेमोरी में सेव रहता है।

रोम के चार प्रकार होते है जो नीचे निम्न प्रकार से दिए हुए है।

  • MROM- मास्क्ड रीड ओनली मेमोरी
  • PROM- प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी
  • EPROM- इरेसेबल एंड प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी
  • EEPROM- इलेक्ट्रिकली इरेसेबल एंड प्रोग्रामेबल रीड ओनली मेमोरी

RAM और ROM में क्या अंतर है?

RAM और ROM में कई प्रकार के अंतर पाए जाते है। हमने नीचे RAM और ROM के महत्वपूर्ण निम्न अंतर बताए हुए जिन्हे आप देख सकते है।

  • रोम में डाटा को लिखा जाता है वही रैम को केवल पढ़ सकते है लिखा नहीं जाता है।
  • रोम में डाटा स्टोर करने की बहुत कम capacity नहीं होती है जबकि रैम में डाटा स्टोर करने की अत्यधिक capacity होती है।
  • रैम का मूल्य अधिक होता है वहीं रोम का मूल्य रैम से कम होता है।
  • रैम एक अस्थायी मेमोरी है जभी रोम एक स्थायी मेमोरी है।
  • रैम एक परवर्तनशील मेमोरी है, रोम एक अपरिवर्तनशील मेमोरी है।

संबंधित खबर New Traffic Rule Big decision of UP government, license will be canceled if hat-trick of traffic challan is given

New Traffic Rule: यूपी सरकार का बड़ा फैसला, ट्रैफिक चालान की हैट्रिक लगने पर रद्द हो जाएगा लाइसेंस

Leave a Comment

WhatsApp Subscribe Button व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp