कृषि समाचार

पशुधन किसान क्रेडिट कार्ड योजना – लोन पर केवल 4% ब्याज लगेगा जानें योजना के बारे में पूरी जानकारी

इस योजना के लाभार्थी बनने वाले किसान लाभार्थी क्रेडिट कार्ड की सहायता से पशुपालन एवं मछली पालन व्यवसाय की जरूरतों की पूर्ति के लिए कर सकेंगे। बैंको एवं वित्तीय संस्थानों से पशुधन किसान क्रेडिट कार्ड लेने वाले लाभार्थियो को सिर्फ 4 प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर पर यह लोन मिल जायेगा।

केंद्र सरकार ने पशुपालन का व्यवसाय करने वाले किसानों के लिए पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना को शुरू किया है। पशु किसान क्रेडिट कार्ड की सहायता से पशुपालन करने वाले किसानों को अपना व्यापार बढ़ाने में मदद मिलेगी। कार्ड का प्रयोग किसान अपने पशु एवं मछली पालने के व्यवसाय की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए कर सकेंगे। लेकिन इस कार्ड के लिए सिर्फ गाय, बकरी, भैस, मुर्गी एवं मछली पालने वाले किसानों को ही मिलेगा। सामान्यतया बैंकों से किसानों को 7 प्रतिशत की दर से लोन दिया जाता है, किन्तु इस स्कीम में किसानों को 3 प्रतिशत कम की दर से लोन मिलेगा।

योजना की लाभार्थी व्यक्ति को सरकार की तरफ से 3 लाख रुपयों का ऋण मिलेगा। साथ ही स्कीम में 1.6 लाख रुपए तक के ऋण पर किसी गारंटी की जरुरत नहीं होगी। लाभार्थी को एक भैस के लिए 60 हजार, गाय के लिए 40 हजार, एक मुर्गी के लिए 720 एवं एक भेड़/ बकरी के लिए 4 हजार रुपयों तक का ऋण दे रही है। बैंको एवं वित्तीय संस्थानों से योजना के लाभार्थी व्यक्ति को सिर्फ 4 प्रतिशत की ब्याज दर से लोन दिया जाता है। लोन धारक को पूरी 6 समान किस्तों में ऋण क राशि मिलेगी और लाभार्थी को 5 वर्षो के टाइमपीरियड में यह राशि लौटानी है।

किसान क्रेडिट कार्ड के उद्देश्य

देश के किसानों की आर्थिक स्थिति को ध्यान रखते हुए सरकार ने इस क्रेडिट कार्ड योजना को शुरू किया है। किसान पशुपालको के बहुत से जानवर बीमार एवं चोटित होने के कारण असमय ही मौत का ग्रास बन जाते है। इसकी प्रमुख वजह यह है कि उनके पास इनके उपचार के लिए पैसे नहीं होते है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस पशुपालक किसानों को क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 1 लाख 60 हजार रूपये के लोन देने की शुरुआत की है। इस धनराशि से किसानों को आर्थिक सहायता मिलेगी और उनके व्यापार में सुधार होगा। इस लोन को पशुपालक बिना किसी गारंटी के प्राप्त कर सकते है। इस ऋण योजना से देश के पशुपालक क्षेत्र में बहुत सुधार आएंगे।

योजना में जरुरी प्रमाण-पत्र

  • आधार कार्ड
  • पैनकार्ड, मतदाता पत्र, राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • संबधित राज्य में निवास एड्रेस
  • नवीनतम पासपोर्ट आकार के फोटो

पशुधन किसान क्रेडिट कार्ड की आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने समीप के बैंक अथवा पशु पालन विभाग में जाना है।
  • ऊपर लिस्ट में बताये सभी प्रमाण-पत्रों को अपने साथ लेकर जाए।
  • आवेदन फॉर्म को प्राप्त करके ध्यान से भर लें।
  • इसके बाद मांगे गए सभी दस्तावेजों की प्रतियों को फॉर्म में संलग्नित कर दें।
  • इस प्रकार से तैयार फॉर्म को सम्बंधित अधिकारी के पास जमा कर आये।
  • आवेदन पत्र स्वीकृत होने के 1 महीने के बाद आपको पशु क्रेडिट कार्ड मिल जायेगा।
  • बैंक में जाकर आपको यह कार्ड प्राप्त करना होगा।

यह भी पढ़ें :- PIB Fact Check: क्या PM Mudra Yojana के तहत 4500 रूपये प्रोसेसिंग फीस देने पर मिलेगा 10 करोड़ का लोन, जाने ये है सच्चाई

पशुओ का हेल्थ सर्टिफिकेट भी बनवाये

इस स्कीम के बारे में पशुपालको को जानकारी देते हुए डॉ. आर्य बताते है कि आवेदकों को अपने सभी प्रमाण पत्रों के साथ अपने पशु का हेल्थ सर्टिफिकेट भी बनवा लेना है।

पशुधन किसान क्रेडिट कार्ड के लाभ

  • दिए जा रहे लोन की राशि को 4 प्रतिशत सलाना ब्याज की दर से लौटानी होगी।
  • ऋण के लाभार्थी को 1,60,000 रुपए की धनराशि मिलेगी।
  • सूअर के लिए 16,327 रुपए का लोन मिलेगा।
  • यदि लाभार्थी को 3 लाख रुपए का ऋण मिलता है तो इसकी ब्याज दर 12 प्रतिशत रहेगी।
  • लाभार्थी अपने क्रेडिट कार्ड का प्रयोग बैंक डेबिट कार्ड की भाँति भी कर सकेंगे।
  • कार्ड से मिलने वाले ऋण से किसान को ऋण के दुष्चक्र से मुक्ति मिलेगी।
  • किसान को अपनी संपत्ति एवं खेत-जमीन साहूकारों के पास गिरवी नहीं रखनी होगी।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Kartik Purnima 2022: कब है कार्तिक पूर्णिमा? यहां जानें सही डेट, JNVST Admission 2023: नवोदय विद्यालय कक्षा 6 के रजिस्ट्रेशन विधवा पेंशन योजना 2022: Vidhwa Pension ऑनलाइन आवेदन New CDS of India Anil Chauhan: जानिए कौन हैं अनिल चौहान