NDA VS CDS: सेना में अफसर बनने के लिए इन दोनों में क्या है बेस्ट, जाने

जिन बच्चों को सेना में भर्ती होना है उनके लिए NDA और CDS सबसे बेहतर विकल्प हो सकते है।

इन दोनों की परीक्षा पास करने के बाद आप Indian Army में lieutenant के पद पर नौकरी कर पाते है।

Credit:-Amar Ujala

NDA और CDS की मदद से भारतीय सेना में जुड़ने पर आपका प्रमोशन जल्दी-जल्दी होता है और आप जल्द ही सेना के सर्वोच्च पद पर पहुंच पाते है।

Credit:- Colonel Defence Academy

National Defence Academy (NDA) यह एक परीक्षा है जो थल सेना, वायु सेना और जल सेवा में सीधे लेफ्टिनेंट के पद पर पहुंचने के लिए UPSC द्वारा आयोजित की जाती है। 

Credit:-Defence Direct Education

Combine Defence Services (CDS) यह परीक्षा ग्रैजुएट लोगों के लिए आयोजित करवाई जाती है। इसके लिए 21 वर्ष से 24 वर्ष तक के विद्यार्थी आवेदन कर सकते है।

NDA पास करने के बाद आपको 3 साल की ट्रेनिंग करनी होती है उसके बाद आप अकादमी में एडमिशन ले सकते है। अकादमी में जाकर पढ़ाई और ट्रेनिंग करने के बाद आपको नौकरी मिलती है।

Credit:- Colonel Defence Academy

लेकिन CDS पास करने के बाद आपको सीधे ट्रेनिंग के लिए एकेडमी भेज दिया जाता है।

Credit:-Amar Ujala

सरल शब्दों में अगर आप NDA पास करते हैं तो आपका ग्रेजुएशन का खर्चा सरकार उठाती है और आपको सैनिकों के बीच पढ़ने का एक अच्छा अनुभव मिलता है। 

Credit:-Vishwabharti Defence Academy

दूसरी तरफ CDS पास करने के बाद आपको सीधे लेफ्टिनेंट के पद पर नौकरी मिलती है।