एजुकेशन

SAMBHAVAM 2022-23 Application: फ्री में करें आईएएस की कोचिंग, ऐसे करें आवेदन

SAMBHAVAM 2022-23 Application: अभिनेता सोनू सूद पिछले कुछ वर्षो में परोपकार करने के लिए लोकप्रिय हो चुके है। इस बार उन्होंने साल 2022-23 के लिए आईएएस प्रतियोगी परीक्षा के लिए निःशुल्क ऑनलाइन कोचिंग की शुरुआत की है। एक तरफ सोनू (Sonu Sood) फिल्मों में खलनायक की भूमिका के लिए जाने जाते है तो दूसरी ओर महामारी के समय विभिन्न परेशानियों से पीड़ित लोगो की भी मदद करने के लिए भी लोकप्रियता पा चुके है।

SAMBHAVAM 2022-23 Application

इस बार सोनू सूद IAS अभ्यर्थियों की सहायता करने के लिए मुफ्त कोचिंग दे रहे है। सूद डिवाइन इंडिया यूथ एसोसिएशन (DIYA) मिलकर ‘सम्भवम 2022-2023’ (SAMBHAVAM 2022-23) कार्यक्रम को लॉन्च किया है।

सूद चैरिटी फाउंडेशन ने अपनी ऑफिसियल वेबसाइट पर बताया – “सम्भवम में चयनित छात्रों को मेरिटशिप सपोर्ट और समग्र व्यक्तित्व विकास के साथ दश के शीर्ष सिविल सेवा संस्थान से निःशुल्क ऑनलाइन आईएएस कोचिंग मिलती है।”

छात्रवृति का नामसम्भवम 2022-23
छात्रवृति संघठन का नामसूद चैरिटी फाउंडेशन और डिवाइन इंडिया यूथ एसोसिएशन (दिया)
लॉन्चिंग तारीख11 जून 2021
आवेदन की अंतिम तिथि25 सितम्बर 2022
श्रेणीयूपीएससी आईएएस कोचिंग छात्रवृति
आधिकारिक वेबसाइटhttp://soodcharityfoundation.org

यह भी पढ़ें :-Sunny Deol ने अपनी अपकमिंग फिल्मों के रिलीज से पहले लिया बड़ा रिस्क, भुगतना पड़ सकता इसका अंजाम

सोनू सूद निःशुल्क आईएएस कोचिंग की आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले उम्मीदवार संस्था की ऑफिसियल वेबसाइट soodcharityfoundation.org को ओपन करें।
  • वेबसाइट के होम पेज पर अभियान के अंतर्गत “सम्भवम 2022-23 मुफ्त ऑनलाइन” लिंक को चुन लें।
  • इसके बाद “अब आवेदन करें” विकल्प को चुने और सम्भवम 2022-23 के आवेदन पत्र को भरकर अपना रजिस्ट्रेशन पूरा कर लें।
  • इसके बाद आवदेन शुल्क का भुगतान करने के बाद अपना फॉर्म सबमिट कर दें।

सम्भवम आईएएस कोचिंग में शुल्क

आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवारों को 50 रुपए के ऑनलाइन शुल्क का भुगतान करना होगा। इसके बाद वे ‘सम्भवम 2022-23’ की निःशुल्क कोचिंग रजिस्ट्रेशन कर सकते है। यद्यपि सम्भवम 2022-23 कार्यक्रम के लिए छात्रवृति निःशुल्क है। यूपीएससी आईएएस की मुफ्त कोचिंग के लिए 25 सितम्बर 2022 तक आवेदन कर सकते है।

सम्भवम ऑनलाइन कोचिंग की चयन प्रक्रिया

  • आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के चयन के लिए एक ऑनलाइन टेस्ट लिया जायेगा।
  • सम्भवम 2022-23 में अपनी प्रविष्टि जमा करने से प्रोग्राम में चयन की गारंटी नहीं मिल जाती है।
  • सूद फाउंडेशन और DIYA अपने नियमों एयर निर्धारित चयन प्रक्रिया के हिसाब से उम्मीदवारों की सूची तैयार करते है।
  • चयनित उम्मीदवारों का नाम, फोटो, परिणाम, प्रो-डिवीज़न अथवा ऑफलाइन उपयोग/ प्रकाशित करने का अधिकार SCF और DIYA को देते है।
  • चयनित उम्मीदवारों को SCF और DIYA से माँगे जा रहे सभी जरुरी प्रमाण पत्र अवश्य देने होंगे।
  • किसी भी प्रकार की गलत जानकारी देने वाले आवेदन को निरस्त कर दिया जाएगा।
  • ऑनलाइन कोचिंग के मौके का गलत इस्तेमाल करने वाले उम्मीदवार के चयन को रद्द करने का अधिकार SCF और DIYA के पास सुरक्षित है।
  • प्रोग्राम के नियमों एयर निर्देशों का पालन ना करने वाले या गैर-गंभीर व्यवहार करने वाले अभ्यर्थियों की उम्मीदवारी समाप्त हो सकती है।
  • पंजीकरण के लिए 50 रुपयों के गैर-वापिसी (Non-Refundable) शुल्क का देना होगा।
  • SCF और DIYA के बोर्ड सदस्यों, समिति के सदस्यों से प्रोग्राम के शुरू होने से पहले चयनित उम्मीदवार और उनके परिवार जन के द्वारा कोई भी दावा नहीं किया जायेगा।
  • पुरे ऑनलाइन कोचिंग प्रोग्राम के सभी फैसलों के लिए SCF और DIYA अंतिम एवं बाध्यकारी रहेंगे।
  • कार्यक्रम में चयन के लिए आर्थिक रूप से कमजोर एवं काबिल अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जानी है।
  • किसी भी प्रकार के विवाद के लिए मुंबई ननयालयों के अधिकार क्षेत्र के अधीन होगा।
  • उम्मीदवार अपना विवरण जमा करने के लिए आगे बढ़ने पर इन सभी नियमों एवं शशर्तों से राजी है।

सोनू सूद छात्रवृति के उदेश्य

सोनू सूद ने 11 जून को एक और अभियान शुरू किया था जिसको ‘सम्भवम’ कहा जाता है। यह सिविल परीक्षा में सफलता पाने के लिए एक निःशुल्क ऑनलाइन कोचिंग प्रोग्राम है जो तैयारी करने वाले उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करने का काम करता है। इसके अतिरिक्त जीरो लगत कोचिंग सुविधाओं के साथ राष्ट्र के इच्छुक विद्वानों की मेंटरशिप के समर्थन से व्यक्तित्व का विकास करता है। इस प्रकार से एक शक्तिशाली देश के निर्माण के लिए काबिल सेवकों की जरूरत को पूर्ण करता है।

सोनू सूद में कोविड-19 महामारी के दौर ने देश के गरीब लोगों को एक मसीहा के रूप में मदद की थी। वर्तमान समय में भी अभिनेता लाखो लोगों की मदद करने का कार्य कर रहे है। यही वजह है कि हर शनिवार के दिन उनके घर के बाहर किसी अस्पताल जैसी भीड़ दिखाई देती है। मदद मांगने वालो की लम्बी-लम्बी कतारे लगी रहती है। सोनू खुद इन लोगो से मिलकर इनका हाल और आने की वजह को पूछते है।

हाल के ही दिनों में एक प्रसंशक व्यक्ति ने सोनू सूद की पेंटिंग अपने खून से बनाकर गिफ्ट की थी। सोनू ने ख़ुशी के साथ पेंटिंग को रखी और साथ में सलाह दी कि ‘खून को दान करों, खून से मेरी पेंटिंग बनाकर व्यर्थ नहीं करो।”

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button