न्यूज़

Poonam Kaur: राहुल गांधी ने चलते समय पकड़ा पूनम कौर का हाथ? जाने कौन है पूनम कौर

सोशल मिडिया प्लेटफार्म पर भी बहुत पोस्ट हो रही है। इस फोटो में राहुल के साथ अभिनेत्री पूनम कौर (Poonam Kaur) भी है। इस तस्वीर की सबसे खास बात यह है कि राहुल ने पूनम का हाथ पकड़ा है।

देश में कॉंग्रेस पार्टी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गाँधी की एक फोटो काफी खबरों का हिस्सा बन रही है। साथ ही ये तस्वीर सोशल मिडिया प्लेटफार्म पर भी बहुत पोस्ट हो रही है। इस फोटो में राहुल के साथ अभिनेत्री पूनम कौर (Poonam Kaur) भी है। इस तस्वीर की सबसे खास बात यह है कि राहुल ने पूनम का हाथ पकड़ा है। शनिवार के दिन दोनों लोग पद यात्रा एक समय साथ ही दिखे थे। कर्नाटक भाजपा नेता प्रीति गाँधी ने भी राहुल की पूनम का हाथ पकड़ने वाली फोटो को शेयर किया है। साथ में एक जबरदस्त बात भी लिखी है – “अपने परदादा के पदचिन्हों पर चलते हुए!”

गुजरात कॉंग्रेस नेता पवन खेड़ा (Pawan Kheda) ने भाजपा नेताओं को सलाह देकर कहा है – ‘आप बिना समय गवाएं तुरंत अपना इलाज करवाइए। आपकी यह मानसिक स्थिति आपके पड़ोस के लिए नुकसानदायक सिद्ध हो सकती है।’

पूनम ने प्रीति को रिप्लाई दिया

उनके इस फोटो पर कमेंट के बाद वार-पलटवार का क्रम शुरू हो गया है। उनकी बात का सबसे पहले जवाब खुद पूनम गाँधी ने दिया है। पूनम कौर ने ट्वीट किया है – “यह आप बिलकुल अपमान कर रही है। याद रखें पीएम नारी शक्ति के बारे में बाते करते है। मैं फिसली और लगभग गिरने को थी, इस तरह सर ने मेरा हाथ पकड़ लिया।” इसके बाद वे राहुल गाँधी को धन्यवाद देती है – “थैंक यू सर”।

कौन है पूनम गाँधी

पूनम कौर असल में तमिल और तेलगु मूवी की मशहूर अभिनेत्री है। इनका जन्म हैदराबाद में हुआ है और इन्होने नेशनल स्कूल ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, दिल्ली से फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई की है। साल 2006 में अपनी पढ़ाई के बाद पूनम ने निर्देशक तेजा की मूवी ‘ओका विचित्रम’ में काम किया। इसी वर्ष इनको एक अन्य फिल्म मायाजालम में अभिनय का मौका मिल गया। मजेदार बात यह रही कि उनकी मयाजायलम मूवी पहले रिलीज़ हुई। और इसके बाद तो उनका फ़िल्मी करियर शुरू हो गया। इसके बाद तो पूनम बहुत सी फिल्मो में दिखने लगी।

फिल्मों के बाद राजनीति में सक्रिय है पूनम

अब पूनम फिल्मों के साथ पॉलिटिक्स में भी एक्टिव है। वे कॉंग्रेस पार्टी की सदस्य होने के साथ ही तेलंगाना की राजनीति में भी बहुत सक्रिय रहती है। कॉंग्रेस पार्टी में आने से पहले वे स्थानीय पार्टी तेलगुदेशम पार्टी (TDP) की मेंबर थी। पूनम को साल 2017 में उस समय के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू (N Chandrababu Naidu) ने राज्य हथकरघा का ब्रांड एम्बेसडर भी बनाया था। यद्यपि कालान्तर में पूनम ने TDP को छोड़कर कॉंग्रेस पार्टी को ज्वाइन कर लिया।

उद्धव शिवसेना ने पूनम का बचाव किया

इस पुरे प्रकरण को लेकर महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे शिवसेना की नेता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने भी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रियंका ने पूनम कौर का बचाव करते हुए अपनी बात रखी है। वे कहती है – “यदि आपका मतलब यह है कि महिलाओं को पुरुष के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर चलना देश को आगे ले जाने के लिए प्रेरित करता है तो न केवल पंडित नेहरू का बल्कि बाबासाहेब अम्बेडकर का और तमाम स्वतंत्रता सेनानियों का समान भारत के सपने को भी साकार किया जाएगा। कृपया बैठ जाएं।”

यह भी पढ़ें :- Direct Cash Transfer: IMF ने भारत सरकार की डायरेक्ट कैश ट्रांसफर स्कीम की सरहाना करते हुए कहा- चमत्कार से कम नहीं ये योजना

पप्रीति के ट्वीट पर हजारों प्रतिक्रियाएं

भाजपा नेता के ट्वीट को हजारों पर री-ट्वीट किया जा चुका है। और साथ में हजारों लोगों की प्रतिक्रिया भी आ चुकी है। लेकिन अधिकांआपत्ति ही जाता रहे है। लेकिन अधिकांश लोग प्रीति के ट्वीट पर आपत्ति ही व्यक्त कर रहे है।

राहुल ने यात्रा के दौरान दौड़ भी लगाईं

पार्टी पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी के नेतृत्व में कॉंग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा अब तेलंगाना तक पहुँच चुकी है। यही पर पूनम कौर और राहुल गाँधी की हाथ पकडे फोटो को लिया गया। यहाँ पर राहुल ने गोपापल्ली में यात्रा के दौरान दौड़ लगाते हुए दिखे। ये यात्रा तेलंगाना की 9 लोकसभा और 19 विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए कुल 375 किमी की दूरी तक जाने वाली है। इसके बाद यह 7 नवंबर को महाराष्ट्र राज्य में प्रवेश कर लेगी।

राहुल को यात्रा से काफी उम्मीदें

ध्यान रखें राहुल गाँधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा देश में 3,570 किमी की दूरी तय करने वाली है। इस यात्रा को देश के 12 राज्यों से ले जाकर कॉंग्रेस अपनी पुरानी राजनीतिक स्थिति को पाने में सफल होने की कोशिश कर रही है। राहुल इस यात्रा को लेकर काफी उत्साहित है वे कभी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का हाथ पकड़कर चलते है तो कभी अपने पास मौजूद युवाओं के साथ पुश-अप करते दिखते है। इसी प्रकार से राहुल ने चित्रदुर्ग में एक टंकी के ऊपर चढ़कर तिरंगा झण्डा लहराया। उन्होंने एक बार अपनी माता सोनिया गाँधी के जुटे के फीते भी बाँधे।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Kartik Purnima 2022: कब है कार्तिक पूर्णिमा? यहां जानें सही डेट, JNVST Admission 2023: नवोदय विद्यालय कक्षा 6 के रजिस्ट्रेशन विधवा पेंशन योजना 2022: Vidhwa Pension ऑनलाइन आवेदन New CDS of India Anil Chauhan: जानिए कौन हैं अनिल चौहान