कृषि समाचार

PM Kisan Yojana: जानें किन गलतियों की वजह से खाते में नहीं पहुंचते पीएम किसान योजना कैसे पैसे, कैसे करें सुधार

पीएम किसान योजना के अंतर्गत लाभार्थी किसानों को वार्षिक 6000 रुपए दिए जाते है। इसके लिए किसानों को ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया करनी होती है। लेकिन पिछली क़िस्त के भुगतान में यह देखा गया था कि कुछ किसान पात्रता रखने पर भी अपने फॉर्म की छोटी-मोटी त्रुटि के कारन योजना के पैसों से वंचित हो गए थे। तो सभी किसानो को ये गलतियाँ ठीक कर लेनी चाहिए।

बहुत से किसानों को आजकल यह शिकायत करते देखा गया है कि इनके पंजीकरण के बाद भी पीएम किसान योजना के पैसे नहीं मिले। इस प्रकार की परेशानियों से जूझ रहे PM Kisan Yojana के किसान लाभार्थियों को सबसे पहले अपने द्वारा भरी गयी जानकारियों को योजना के वेबपोर्टल पर जाँच लेना चाहिए। अक्टूबर माह में किसान लाभार्थियों के बैंक खातों में योजना की 12वीं क़िस्त पहुँचाई गयी है। लेकिन सरकार द्वारा सभी जानकारी सही समय पर सार्वजानिक करने के बाद भी किसान लाभार्थी इस योजना में दी जाने वाले लाभ राशि से वंचित रह गए थे। इस लेख में आपको इसी प्रकार की गलतियों के बारे में बताने का प्रयास होगा।

ख़बरों के मुताबिक बहुत से किसान लाभार्थी ई-केवाईसी एवं भूलेख के वेरिफिकेशन में लाहपरवाही करते देखें जा रहे है। इसी प्रकार के किसान लाभार्थियों को पीएम किसान योजना की 12वीं क़िस्त से वंचित होना पड़ा था। इस प्रकार से ही किसान लाहपरवाही दिखाते रहे तो आने वाली क़िस्त में भी वो निराश हो सकते है।

किसान दी गयी जानकारी को जाँचे

सबसे पहले योजना की राशि ना पाने वाले किसान पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) के वेबपोर्टल पर जाकर यह देखें कि आपके द्वारा दी गयी जानकारी प्रमाण-पत्रों के हिसाब से सही भी है या नहीं। इस जाँच में आपको अपने आधार नंबर, बैंक खाता संख्या, बैंक IFSC कोड ,अपना नाम, गाँव का नाम आदि को बारीकी से जाँच लेना चाहिए। अपनी डिटेल्स को जांचने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा-

  • सबसे पहले आपको पीएम किसान योजना के वेबपोर्टल https://pmkisan.gov.in/ पर जाना है।
  • वेबपोर्टल के होमपेज के दाई ओर “Farmer Corner” सेक्शन में चुन लें।
  • इस सेक्शन के अंतर्गत आपको “Beneficiary Status” विकल्प को चुन लेना है।
  • आपको पीएम किसान अकाउंट नंबर अथवा पंजीकृत मोबाइल नंबर में से किसी एक ऑप्शन को चुनना है।
  • ये सभी डिटेल्स देने के बाद आपको “Get Data” बटन को दबाना है।
  • आपको अपने डिटेल्स स्क्रीन पर प्रदर्शित होंगे।
  • भूलेख का सत्यापन जरूर करें – सभी किसान लाभार्थी अपनी जमीन के पेपर्स का सत्यापन जरुर करवा लें। ऐसा ना करने पर 13वीं क़िस्त से वंचित होना पड़ सकता है।
  • राशन कार्ड की सॉफ्ट कॉपी अपलोड करें – अब किसान लाभार्थी के राशन कार्ड की छायाप्रति देने से काम न होगा। 13 विन क़िस्त के लिए आपको योजना के वेबपोर्टल पर राशन कार्ड की पीडीएफ फाइल को अपलोड करना होगा।

यहाँ पर संपर्क करें

किसान लाभार्थियों को अधिक जानकारी लेने के लिए योजना की ऑफिसियल ईमेल आईडी [email protected] पर अपनी बात को लिखना होगा। इसके अतिरिक्त किसान लाभार्थी फ़ोन कॉल के माध्यम से भी अपनी बात सम्बंधित लोगों तक पहुँचा सकते है, इसके लिए उन्हें हेल्पलाइन नंबर 155261, 1800115526 (टोल फ्री) अथवा 011-23381092 पर संपर्क करना है।

यह भी पढ़ें :- <strong>पशुधन किसान क्रेडिट कार्ड योजना – लोन पर केवल 4% ब्याज लगेगा जानें योजना के बारे में पूरी जानकारी</strong>

लाभार्थी किसानों की संख्या में कमी हुई

पीएम किसान योजना के अंतर्गत किसानों के भूलेख के वेरिफिकेशन के कारण लाभार्थियों की संख्या में कमी देखी गयी है। पिछली लाभ राशि क़िस्त की तुलना में इस बार 2 करोड़ कम किसान लाभार्थियों को क़िस्त पहुँचाई गयी है। जहाँ एक ओर योजना की 11वीं क़िस्त का लाभ करीब 10 करोड़ किसानों लाभार्थियों को मिला था तो दूसरी ओर योजना की 12वीं क़िस्त का लाभ मात्र 8 करोड़ किसान लाभार्थियों को ही मिल पाया था।

योजना में किसानों को ये लाभ मिलते है

पीएम किसान योजना में पात्रता रखने वाले किसानों को सभी प्रकार के वेरिफिकेशन करने पर प्रत्येक वर्ष 6 हजार की राशि दी जाती है। इस लाभ राशि को एक साल में 2000 रुपयों की तीन किस्तों में दिया जाता है। अभी तक योजना के अंतर्गत किसानों को 12 किस्ते मिल चुकी है।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Kartik Purnima 2022: कब है कार्तिक पूर्णिमा? यहां जानें सही डेट, JNVST Admission 2023: नवोदय विद्यालय कक्षा 6 के रजिस्ट्रेशन विधवा पेंशन योजना 2022: Vidhwa Pension ऑनलाइन आवेदन New CDS of India Anil Chauhan: जानिए कौन हैं अनिल चौहान