स्पोर्ट्स

नीरज चोपड़ा लुसाने डायमंड लीग 2022 में शीर्ष पर आने वाले पहले भारतीय

लुसाने डायमंड लीग 2022 – भारत के भाला फेंक ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा ने एक बार फिर से इतिहास रचकर लुसाने डायमंड लीग 2022 में शीर्ष स्थान प्राप्त कर एक ऐतिहासिक उपलब्धि हांसिल कर ली है। नीरज चोपड़ा लुसाने डायमंड लीग 2022 में 89.08 मीटर के अपने पहले थ्रो के साथ जीत दर्ज करने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। 24 साल के नीरज चोपड़ा ने हाल ही में वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के फाइनल में 88.13 मीटर दूर भला फेककर देश को रजत पदक दिलाया था, अंजू बॉबी जॉर्ज के बाद ऐसा करने वाले वह दूसरे भारतीय बने, हालाकिं इस दौरान वह चोटिल भी हो गए थे जिसके चलते वह कॉमन वेल्थ 2022 में भाग नहीं ले पाए।

चोटिल होने के चलते कॉमन वेल्थ में नहीं हुए शामिल

नीरज चोपड़ा को वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दौरान चोट लगी जिसके बाद भी वह अपना बेहतर प्रयास करते हुए रजत पदक जीतने में कामयाब रहे, लेकिन चोटिल होने की चलते वह कॉमन वेल्थ 2022 में भाग नहीं ले सके, वर्ष 2018 में कॉमन वेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक अपने नाम करने वाले चोपड़ा 2022 में चोट के कारण इस वर्ष कामनवेल्थ गेम्स का हिस्सा नहीं बन पाए, जिसका उनके फैंस को काफी दुख भी हुआ। इसके बाद अब डायमंड लीग 2022 में भाग लेकर नीरज ने एक भीतर शुरुआत कर खुद को शीर्ष पर कायम रखते हुए गेम में फिर से वापसी कर ली है।

नीरज चोपड़ा ने की बेहतरीन वापसी

लुसाने डायमंड लीग 2022 शुक्रवार को हुए डायमंड लीग से पहले चोटिल होने के कारण कॉमन वेल्थ 2022 में हिस्सा नहीं ले पाए, जिसके बाद डायमंड लीग में उन्होंने बेहतरीन वापसी के साथ जेवलिन थ्रो में पहले शीर्ष भारतीय होने की उपलब्धि हांसिल की लीग में नीरज चोपड़ा ने अपने पहले प्रयास में 89.08 मीटर तक भाला फेंका, जिसे कोई अन्य खिलाड़ी पार नहीं कर सका। वहीं अपने दूसरे प्रयास में उन्होंने 85.18 मीटर का थ्रो किया अपने छह प्रयासों में नीरज का पहला थ्रो सर्वश्रेष्ठ रहा जो उन्हें जिसने उन्हें शीर्ष पर बनाए रखा।

डायमंड लीग में जीतने वाले पहले भारतीय

स्टॉकहोम डायमंड लीग में सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ भाला फेंककर नीरज चोपड़ा ने नया इतिहास रच दिया। हरियाणा के पानीपथ के पास खंडरा गाँव के रहने वाले नीरज चोपड़ा 89.08 मीटर भाला फेककर डायमंड लीग में शीर्ष पर आने वाले पहले भारतीय बन गए है, नीरज से पहले डिस्कस थ्रोअर विकास गौड़ा डायमंड लीग में शीर्ष तीन में रहने वाले एकमात्र भातीय थे, गौड़ा दो बार 2012 में न्यूयॉर्क में और 2014 में दोहा में और 2015 में शंघाई और यूजीन दोनों मौकों पर तीसरे स्थान पर रहे।

डायमंड लीग प्रतियोगिता में पहला स्थान हांसिल करने के साथ ही नीरज चोपड़ा ने सात और आठ सितंबर को ज्यूरिख, स्विटजरलैंड में होने वाले डायमंड लीग फाइनल के लिए कॉलिफाई कर लिया है, जिसे करने वाले वह पहले भारतीय बने हैं, वहीँ वह अब विश्व चैंपियनशिप 2023 के लिए भी कॉलिफाई कर चुके हैं यह उन्होंने बुडापोस्ट, हंगरी में 2023 विश्व चैंपियनशिप के लिए 85.20 मीटर क्वालिफाइंग मार्क तोड़कर भला फेकते हुए क्वालीफाई किया है।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button