न्यूज़

Navratri 2022 Date: कब से शुरू हैं नवरात्र, जानें कलश स्थापना का मुहूर्त और घटस्थापना विधि

हम सभी जानते है कि हिन्दू धर्म में नवरात्रि (Navratri) का बहुत महत्त्व है। नवरात्रि के इन 9 दिनों में माता दुर्गा (Maa Durga)को अपने घर में स्थापित करते है। इन दिनों में माता की अखंड ज्योति को स्थापित करके माँ दुर्गा की विधि-विधान से पूजा और प्रार्थना करने का विधान है। इन नौ दिनों के त्यौहार में पूरे 9 दिनों तक देवी के नौ विभिन्न रूपों की पूजा-अर्चना करनी होती है। हिन्दू पञ्चांग के हिसाब से अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को शारदीय नवरात्रि की शुरुआत होती है।

navratri 2022 Date when does navratri start know the muhurta and ghatasthapana method of setting up the kalash

यह भी पढ़ें :- Free Ration Scheme: फ्री राशन लेने वालों के लिए बड़ी खबर, यूपी सरकार दे रही सितंबर तक गेहूँ-चाँवल, जाने पूरी खबर

नवरात्रि घटस्थापना पूजन विधि का विवरण

घट का अर्थ होता है मिट्टी का घड़ा। यह घड़ा नवरात्रि के पहले दिन शुभ मुहूर्त के अनुसार स्थापित कर दिया जाता है। जिस स्थान पर आपको घटस्थापना करनी है उस स्थान को सही प्रकार से साफ़ करने के बाद वहाँ पर गंगाजल डालकर साफ एवं पवित्र कर देना चाहिए। इसके बाद घड़े को घर के ईशान कोण में स्थापित करते है। घड़े में पहले थोड़ी सी मिट्टी डाले और थोड़ी सी जौ डाल दें। इसके बाद इसकी पूजा कर दें।

इतना सब कर लेने के बाद एक चौकी में लाल कपडा बिछाकर उसमे माँ दुर्गा की तस्वीर या मूर्ति लगानी चाहिए। इसके बाद एक ताम्बे के कलश में पानी को भर दें और उसके ऊपरी भाग में लाल मौली को बांध दें। इस कलश में सिक्का, अक्षत, सुपारी, लौंग का जोड़ा, दूर्वा घास आदि को डाले। इसके बाद कलश के ऊपरी भाग में आम के पत्ते लगा दें। नारियल को लाल चुनरी या कपडे से लपेटकर रख लें।

अब इस कलश में पास में थोड़े फल, मिठाई और प्रसाद को रख दें। फिर कलश की स्थापना को पूरी करने के बाद माता की पूजा-अर्चना करें।

नवरात्रि घटस्थापना मुहूर्त

  • आश्विन घटस्थापना सोमवार, सितम्बर 26, 2022 के दिन
  • घटस्थापना का समय – प्रातः 06:28 बजे से लेकर 08:01 बजे तक
  • स्थापना की समयावधि – 01 घंटा 33 मिनट
  • घटस्थापना अभिजीत मुहूर्त – शाम 12:06 बजे से शाम 12:54 बजे तक

नवरात्रि का शुभ योग मुहूर्त समय

  • आश्विन नवरात्रि 26 सितम्बर, 2022 सोमवार के दिन
  • प्रतिपदा तिथि आरम्भ – 26 सितम्बर 2022 के दिन प्रातः 03:23 बजे से प्रारम्भ
  • प्रतिपदा तिथि समाप्ति – 27 सितम्बर 2022 के दिन प्रातः 03:08 बजे पर समाप्त

नवरात्रि घटस्थापना सामग्री

हल्दीकुमकुमकपूर
जनेऊधूपबत्तीनीरांजन
आम के पत्तेपूजा के पानहार
फूलपंचामृतगुड़ खोपरा
खरीकबादामसुपारी
सिक्केनारियलपांच प्रकार के फल
चौकी पाटकुश का आसननैवेद्य

नवरात्रि की तारीखों का विवरण

  • प्रतिपदा (माँ शैलपुत्री) – 26 सितम्बर 2022
  • द्वितीया (माँ ब्रह्मचारिणी) – 27 सितम्बर 2022
  • तृतीया (माँ चंद्रघंटा) – 28 सितम्बर 2022
  • चतुर्थी (माँ कुष्मांडा) – 29 सितम्बर 2022
  • पंचमी (माँ स्कंदमाता) – 30 सितम्बर 2022
  • षष्ठी (माँ कात्यायनी) – 01 अक्टूबर 2022
  • सप्तमी (माँ कालरात्रि) – 02 अक्टूबर 2022
  • अष्टमी (माँ महागौरी) – 03 अक्टूबर 2022
  • नवमी (माँ सिद्धदात्री) – 04 अक्टूबर 2022
  • दशमी (माँ दुर्गा प्रतिमा विसर्जन) – 5 अक्टूबर 2022

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button