महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (एमटीएनएल) ने कल 31 दिसंबर, 2020 को समाप्त तिमाही के लिए कई वित्तीय परिणामों की घोषणा की। एमटीएनएल का Q3 FY 21 घाटा 637.78 करोड़ रुपये तक पहुंच गया, जो कि Q2 FY 21 में 582.25 करोड़ रुपये था।

तीसरी तिमाही में एमटीएनएल की आय 471.41 करोड़ रुपये रही, जो पिछली तिमाही में 458.28 करोड़ रुपये थी। तिमाही का खर्च 1,040.91 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,109.29 करोड़ रुपये रहा। एमटीएनएल ने तिमाही के दौरान भारत सरकार द्वारा दी गई संप्रभु गारंटी के आधार पर गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर 6500 करोड़ रुपये जुटाए।

एमटीएनएल की सेलुलर सेवाओं से राजस्व Q3 वित्तीय 21 में 61.56 करोड़ रुपये रहा, जो पिछली तिमाही में 45.18 करोड़ रुपये था, जबकि बुनियादी और अन्य सेवाओं से राजस्व Q3 वित्तीय वर्ष 21 में 299.3 करोड़ रुपये था, जो कि पिछली तिमाही में 297.4 करोड़ रुपये था। ।

सेल्युलर सर्विस बिज़नेस को Q3 वित्तीय वर्ष 21 में 126.22 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ, जो कि दूसरी तिमाही में 111.36 करोड़ रुपये का नुकसान था। तीसरी तिमाही में बेसिक और अन्य सेवाओं से राजस्व को 42.61 करोड़ रुपये का लाभ हुआ, जो इस तिमाही में 34.45 करोड़ रुपये था।

By बेसिल कन्नगी अरासु

बेसिल वर्तमान में हिंदी समचार में प्रधान संपादक के रूप में काम करते हैं। वह मीडिया और मनोरंजन और दूरसंचार सहित विषयों पर लिखते हैं। बेसिल को मिडनाइट्स पर भी इंग्लिश फुटबॉल देखने का शौक है।

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x