न्यूज़

Mikhail Gorbachev: सीपीआईएम का विवादास्पद ट्वीट- गोर्बाचेव को बताया समाजवाद का गद्दार और USSR का विध्वंसक

यूएसएसआर के राष्ट्रपति पद से हटने के बाद से ही विश्वभर से गोर्बाचेव (Mikhail Gorbachev) को बहुत से पुरस्कार और सम्मान मिले है। उनको वर्ष 1990 में नोबल शांति पुरस्कार भी मिला था। उनको लम्बे समय से चले आ रहे शीत युद्ध (Cold War) को समाप्त करवाने का श्रेय भी देते है।

वे अपने समय में सोवियत संघ के राष्ट्रपति और शीत युद्ध को समाप्त करने वाले नेता रहे है। किन्तु वे पिछले कुछ समय से अस्वस्थ चले आ रहे थे। लेकिन मंगलवार को 92 वर्ष की आयु में उन्होंने अंतिम सांस ली।

सीपीआईएम का विवादास्पद ट्वीट

उनकी मृत्यु पर सभी ओर से प्रतिक्रिया का दौर शुरू हो गया। इसी बीच सीपीआई (एम) पुडुचेरी ने एक विवादित ट्वीट कर दिया। पार्टी ने ट्वीट में लिखा है – समाजवाद के गद्दार और यूएसएसआर के विध्वंसक मिखाइल गोर्बाचेव का 91 वर्ष की आयु में निधन हो गया। पार्टी के अनुसार गोर्बाचेव सोवियत रूस के विनाशक और समाजवाद के गद्दार है।

यह भी पढ़ें :- अब यूजर्स को WhatsApp, Instagram और Facebook यूज करने के लिए देने होंगे पैसे, जाने कंपनी बना रही है ये प्लान

व्लादिमीर पुतिन ने शोक प्रकट किया

गोर्बाचेव के देहांत पर रूस के राष्ट्रपति व्लादमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने शोक प्रकट किया है। गोर्बाचेव का जन्म 2 मार्च 1931 के दिन एक निर्धन परिवार में हुआ था। वे 1985 में सोवियत संघ के नए नेता के रूप में चुने गए। वे सात सालो के कम समय में ही सत्ता में रह पाए। लेकिन उनके द्वारा विभिन्न बड़े बदलाव शुरू हुए थे। गोर्बाचेव ने बिना किसी रक्तपात के अमेरिका से चले आ रहे शीत युद्ध को ख़त्म कर दिया। किन्तु इसके बाद भी सोवियत संघ टुकड़ों में विभक्त हो गया।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
विधवा पेंशन योजना 2022: Vidhwa Pension ऑनलाइन आवेदन New CDS of India Anil Chauhan: जानिए कौन हैं अनिल चौहान