संयुक्त राष्ट्र चीफ गुटेरेस की युद्ध विराम की अपील पर भड़के इजराइली राजदूत ने इस्तीफे की माँग की

मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र ने मीटिंग के दौरान यूएन चीफ एंटोनियो गुटरेस ने इजराइल को अंतर्राष्ट्रीय कानूनों की बात कहते हुए लड़ाई को तत्काल रोकने की बात कही है। यूएन चीफ (António Guterres) की इस बात पर इजराइल ने सख्त आपत्ति जाहिर की है। इस समय इजराइल और हमास के बीच चल रहे संघर्ष की खबरों एवं तस्वीरो ने हर किसी को परेशान किया हुआ है।

इस युद्ध को लेकर विश्व दो भागो में बँट गया है एक ओर कुछ लोग इजराइल की गाजा पर की जा रही कार्यवाही को गलत करार दे रहे है तो दूसरी ओर कुछ लोग इजराइल को रोकने की बात कर रहे है। वैसे इजराइल ने हमास को ISIS जैसा बताया है।

इजराइली राजदूत ने यूएन चीफ से इस्तीफा माँगा

मामला बढ़ने पर यह मंगलवार के दिन यूनिटेड नेशन (UN) तक भी पहुँच चुका है। गाजा में हो रही लड़ाई को लेकर कल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भी बातचीत हुई। मीटिंग तब गर्म हो गई जब इजराइली राजदूत गिलाद एर्दान (Gilad Erdan) ने यूएन के महासचिव एंटोनियो गुटरेस को त्याग-पत्र देने की बात कह दी।

इजराइली राजदूत एर्दान का कहना है कि बच्चो, महिलाओ एवं वृद्धो के सामूहिक हत्याओं पर यूएन महासचिव ने जैसी समझ प्रस्तुत की है, उससे वे यूएन के नेतृत्व के योग्य नहीं है। उन्होंने तत्काल शेफ से त्याग-पत्र की मांग कर दी। इस प्रकार के लोग से वार्ता करने का कुछ मतलब नहीं है। ये यहूदी एवं इजराइलियों पर संवेदना जताते है।

वे आतंक और हत्या पर सहानुभूति रखते है

राजदुत एर्दान का कहना है कि इस समय इजराइल पर हमास रॉकेट से हमले कर रहा है और यूएन (United Nations) चीफ ने संदेह के बगैर ही ये सिद्ध कर दी है कि वो इस इलाके की सच्चाई से पूर्णतया अनजान ही है। एर्दान के अनुसार गुटरेस का ये कथन कि हमास पर अटैक कोई अचानक से नहीं हुआ है वो भी आतंक एवं हत्याओं से सहानुभूति रखने जैसा ही है।

ये बात काफी दुःख देती है कि होलोकास्ट के बाद बने एक संघठन का चीफ ही इस प्रकार के घातक ख्याल रखता है और ये एक त्रासदी वाली बात है।

युद्ध विराम चाहते है सयुक्त राष्ट्र महासचिव

मंगलवार को हो रही यूनिटेड नेशन की मीटिंग में यूएन महासचिव ने इजराइल और हमास के बीच जारी लड़ाई को लेकर युद्धविराम की बाते राखी। उनके मुताबिक़ अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानूनों को सम्मान देने की जरुरत है। वे गाजा पर इजराइल की आर्मी हो रहे बम अटैक को लेकर चिंता जाहिर कर रहे थे और कोई भी पक्ष अंतरराष्ट्रीय क़ानून से ऊपर नहीं है।

चीफ ने कहा कि गाजा में स्थिति ख़राब है और वहाँ के नागरिक खाने, पानी एवं दवाई आदि मुलभुत वस्तुओ को लेकर परेशान है। ऐसी दशा में वे इसी समय इजराइल एवं हमास से मानवीय युद्ध विराम करने की अपील कर रहे थे।

कोहेन ने यूएन चीफ के साथ मीटिंग रद्द की

इजराइली विदेश मंत्री एली कोहेन यूएन के चीफ के साथ अपनी मीटिंग भी कैंसिल कर चुके है और वे (Eli Cohen) चीफ पर ‘आतंक को सहने एवं सही कहने’ के आरोप भी लगा रहे है। यूएन चीफ का ये कहना है कि ये मानना भी जरुरी है कि हमास ने यह अटैक बेवजह नहीं किया है और फलीस्तीनी लोगो को 56 सालो से घुटन वाले कब्जे को झेलना पड़ा है।

Eli Cohen
Eli Cohen

यह भी पढ़ें :- गाजा में बंधकों की तलाश में गए इजराइली सैनिको की हमास लड़ाकों से मुठभेड़ हुई

वैश्विक समुदाय ये युद्ध रोके – गुटरेज

यूएन चीफ गुटरेज ने मिडिल ईस्ट को लेकर सुरक्षा परिषद की मन्त्री स्तर की मीटिंग में कहता था कि वो सब लोगो से अपील करते है कि जब तक इस लड़ाई में निर्दोष नागरिको की जाने जाती है तो इसको रोकना चाहिए।

वैश्विक बिरादरी से यही माँग है कि सब पक्ष अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून के अंतर्गत अपने कर्तव्यों का पालन करें। इस मीटिंग में अमरीकी विदेश मंत्री एन्टनी ब्लिंकन, इजराइली विदेश मंत्री एली कोहेन, फलीस्तीनी विदेश मंत्री रियाद अल मलिकी एवं ब्राजील के विदेश मन्त्री माउरो विएरा मौजूद रहे।

Leave a Comment