न्यूज़

Aadhaar Card Driving License Link: जल्द से जल्द ड्राइविंग लाइसेंस से आधार कार्ड को कराए लिंक, मिलेंगे कई फायदे

ध्यान दें कि देश के कुछ राज्यों में अभी भी ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से जोड़ने की सुविधा नहीं है। कुछ राज्य ऐसे भी है जो अपने यहाँ लोगों को DL से आधार कार्ड जोड़ने की सुविधा दे रहे है।

अपने ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से जोड़ने के बहुत से लाभ है। Driving License Link का सबसे प्रमुख लाभ तो यह होता है कि गैर-क़ानूनी लाइसेंस की रोकथाम हो सकती है। बहुत से गलत प्रकृति के व्यक्ति को एक से अधिक लाइसेंस को रखते देखा जाता है। लेकिन भारतीय कानून के अनुसार कोई भी व्यक्ति सिर्फ एक ही लाइसेंस रख सकता है। सभी लोग इस बात से परिचित है आज सभी जरुरी प्रमाण-पत्रों को आधार कार्ड से लिंक करना अनिवार्य हो चुका है। चाहे वह पैन कार्ड हो, बैंक खाता अथवा ईपीएफओ खाता सरकार ने सभी कुछ आधार से लिंक करवा रखा है।

ध्यान दें कि देश के कुछ राज्यों में अभी भी ड्राइविंग लाइसेंस को आधार कार्ड से जोड़ने की सुविधा नहीं है। कुछ राज्य ऐसे भी है जो अपने यहाँ लोगों को DL से आधार कार्ड जोड़ने की सुविधा दे रहे है। ये राज्य इस प्रकार से है – बिहार, गोवा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखण्ड, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, मिजोरम, पंजाब, तमिलनाडु, महाराष्ट्र।

Aadhaar Card Driving License Link : लिंकिंग प्रोसेस जाने

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य के सड़क परिवहन विभाग की अधिकारिक वेबसाइट http://sarathi.parivahan.gov.in को ओपन करना है।
  • अब आप लाइसेंस के प्रदेश को चुन लें।
  • आपको एक नया विंडो पेज मिलेगा।
  • वेब पेज के दायी ओर मेनू में “Apply Online” विकल्प को चुनना है।
  • यहाँ पर आपको “Service on Driving Licence (Renewal/Duplicate/Aedl/Others)” लिंक को चुनना है।
  • आपको एक नयी विंडो मिलेगी जहाँ पर आपको अपने लाइसेंस के राज्य की जानकारी देनी है।
  • इसके बाद आपको “Continue” बटन को दबाना है।
  • आपको दिए बॉक्स में अपने ड्राइविंग लाइसेंस नंबर को देना है साथ ही अपनी जन्म-तिथि भी देनी है। अब आपको “Get Details” बटन को दबाना है।
  • अब आपको अपने डीएल की जानकारी प्रदर्शित होगी। और आपने “Proceed” बटन को दबाना है।
  • अब अपना 12 अंकों की आधार संख्या और मोबाइल नंबर को डालें।
  • आपके दिए मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा जिसको सत्यापित करवा देना है।
  • यह सभी डिटेल्स कन्फर्म होने के बाद आपको मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर एक “स्वीकृति सन्देश” भी मिलेगा।

दूसरे तरीके से लिंक करना

  • सबसे पहले लाइसेंस जारी करने वाले प्रदेश की परिवहन विभाग की वेबसाइट ओपन करें।
  • आपको होम पेज पर “Link Adhaar” बटन को दबाना है।
  • अब “Adhaar Number Entry” विकल्प को सर्च करना है।
  • आपको एक ड्राप-डाउन मेनू में “Driving License” विकल्प को चुनकर अपना लाइसेंस नंबर डालना है।
  • यह करने के बाद “Get Details” बटन को दबाना है।
  • आपके सामने अपने लाइसेंस की जानकारी होगी।
  • अब आपको अपना आधार नंबर और लाइसेंस नंबर देना होगा और “Submit” बटन को दबाना होगा।
  • आपको मोबाइल पर एक OTP मिलेगा, इसको टाइप करके सत्यापित कर दें।
  • वेरिफिकेशन हो जाने पर आपको एक कन्फर्मेशन मैसेज मिलेगा।

ई-आधार कार्ड से लिंकिन हो सकती है

जी हाँ, आपने अपने डीएल को आधार कार्ड से ऑनलाइन जोड़ने के लिए सिर्फ अपना आधार नंबर दर्ज़ करना है। आपको ध्यान होगा कि आपका आधार नंबर हमेशा वही रहता है, अब वह ई-आधार हो अथवा यूआईडीएआई से मिला आधार कार्ड।

यह भी पढ़ें :- Aadhaar Alert: कहीं आपका आधार कार्ड भी तो नकली नहीं? जानें कैसे लगा सकते हैं घर बैठे पता

ड्राइविंग लाइसेंस और आधार लिंकिंग के लाभ

  • एक प्रदेश से जारी किये डीएल अन्य सभी राज्यों में वैलिड होंगे। इस तरह से एक व्यक्ति को अलग-अलग राज्यों के बहुत से लाइसेंस रखने की जरुरत नहीं रहेगी।
  • चूँकि एक ही डीएल को आधार से लिंक कर सकते है अतः एक से ज्यादा लाइसेंस को निश्चित समयसीमा में रद्द किया जा सकेगा।
  • देश में गैर-क़ानूनी लाइसेंस मामलो की रोकथाम हो सकेगी।
  • किसी प्रकार की इमरजेंसी अथवा गाडी के चोरी हो जाने के मामले में डीएल मालिक को आसानी से पता लगा सकते है।

सम्बंधित खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
सिंगर जुबिन नौटियाल का हुआ एक्सीडेंट, पसली और सिर में आई गंभीर आई Jubin Nautiyal Accident Salman Khan Ex-Girlfriend Somy Ali :- Salman Khan पर Ex गर्लफ्रेंड सोमी अली ने लगाए गंभीर आरोप इन गलतियों की वजह से अटक जाती है PM Kisan Yojana की राशि, घर बैठें कराएं सही Mia Khalifa होंगी Bigg Boss की पहली वाइल्ड कार्ड कंटेस्टेंट Facebook पर ये पोस्ट करना पहुंचा देगा सीधे जेल!