इजराइल और हमास युद्ध पर गलत बयानबाजी को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ के सख्त आदेश

इस समय दुनियाभर में हमास-इजराइल युद्ध को लेकर चर्चा जोरो पर है और सभी लोगो इसको लेकर अपनी-अपनी राय दे रहे है। भारत में भी इस युद्ध को लेकर सरकार और अन्य लोगो के अपने पक्ष है किन्तु कुछ लोगो में केंद्र सरकार के स्टैंड की खिलाफत देखने को मिल रही है।

इन्ही बातो के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने भारत सरकार के विरुद्ध बोलने वाले लोगो को सख्त हिदायत दे डाली है। सीएम ने आदेश दिया है कि जो लोग भी सोशल मिडिया पर इसको लेकर गलत बयान देंगे या पोस्ट लिखेंगे उन पर एक्शन लिया जायेगा।

इजराइल और हमास युद्ध के पहले दिन से ही भारत में भी इसको लेकर प्रतिक्रियाएँ आने लगी थी। कुछ दिन पूर्व ही कुछ लोगो की ओर से अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हमास (Hamas) का पक्ष लेते हुए रैली का आयोजन हुआ। इस घटना के बाद सीएम योगी ने पुलिस को सख्त एक्शन लेने के आदेश दे डाले है।

वीडियो कॉन्फ्रेंस में पुलिस को निर्देश मिले

आने वाले दिनों में नवरात्रि एवं विभिन्न त्योहारों की तैयारियों को लेकर सीएम योगी में बहुत से जिलों के जिलाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस से मीटिंग की थी। इसी मीटिंग में योगी ने इजराइल युद्ध को लेकर कड़े आदेश दिए थे कि इस युद्ध पर केंद्र सरकार के स्टैंड के विरुद्ध कोई बात अथवा प्रतिक्रिया सामने आने पर कड़ा एक्शन लिया जाए।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान ही योगी ने पुलिस अफसरों को इस युद्ध को लेकर काफी चौकन्ने रहने की सलाह भी दी है। अब सभी पुलिस कप्तान अपने इलाके के धार्मिक गुरुओ से तुरंत वार्ता करेंगे। इस मामले में देश की सरकार के स्टैंड के विरुद्ध किसी भी प्रकार की प्रतिक्रिया स्वीकृत नहीं होगी।

सोशल मिडिया या फिर धार्मिक स्थान से कोई भी उत्पात करने वाला वक्तव्य न आने पाए। इसके बाद भी कोई ऐसी गतिविधि करता है तो ऊके खिलाफ तुरंत एक्शन लिया जाए। त्योहारी सीजन में पठाखो की दुकानों को आबादी से दूर रखना होगा और सभी को दुकान का लाइसेंस लेना है। 14 अक्टूबर को मिशन शक्ति का चौथा चरण शुरू होगा।

अलीगढ़ में हमास के समर्थन वाली रैली हुई

पिछले कुछ दिनों से शुरू हुए इजराइल और हमास संघर्ष के बाद से भारत में भी सोशल मिडिया पर लोग को दो भागो में बँटता देखा जा रहा है। अधिकांश लोग को केंद्र सरकार के इजराइल को लेकर स्टैण्ड का समर्थन करते देखा जा रहा है किन्तु कुछ वर्ग ऐसा भी देखने में आ रहा है जोकि हमास जैसे आतंकी संघठन को सपोर्ट कर रहा है।

ऐसी ही एक घटना 9 अक्टूबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में देखने को मिली जब सैकड़ो की संख्या में छात्रों ने फलीस्तीन के समर्थन में अपनी रैली निकाली। कैम्पस में हुई इस रैली में छात्रों को ‘वी स्टैण्ड विद फिलिस्तीन’ के नारे लगाते देखा गया। एएमयू के छात्र रैली में अल्ला हू अकबर के नारे भी लगा रहे थे।

भारत के अन्य भागो में हमास को समर्थन

हालाँकि देश के पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) पहले ही दिन ये स्पष्ट कर चुके है कि भारत इस लड़ाई में पूरी तरह से इजराइल के साथ खड़ा है। किन्तु इसके बाद भी भारत में इजराइल का विरोध देखने को मिल रहा है। अलीगढ़ के अलावा चेन्नई और कोलकाता में भी इजराइल का विरोध और हमास का समर्थन हो रहा है।

AMIU-supports-palestine
AMIU-supports-palestine

यह भी पढ़ें :- इजराइल में तबाही से लोगो ने घर छोड़े, पीएम से आतंक पर लगाम लगाने की अपील की

13 अक्टूबर के दिन AIO India नाम के संघठन ने भी देश में इजराइल के विरोध में रैली के आयोजन की बात कही है। तमिलनाडु के मुस्लिम मुनेत्र कझगम भी फलीस्तीन को अपना समर्थन देने रैली कर रहे है। इसी प्रकार से कोलकाता में भी माइनॉरिटी यूथ फोरम से जुड़े लोग भी फलीस्तीनी नागरिको पर हमले का विरोध कर रहे है।

Leave a Comment

बालों के लिए अंडा एक बहुत फायदेमंद चीज है, इसे हेयर मास्क बनाकर इस्तेमाल करें। यहां जानें इस मास्क के फायदे। सर्दियों में ऐसे करें मेकअप, पार्टी में सभी की नजरें सिर्फ आप पर होंगी। यदि आप भी अपने WiFi का पासवर्ड भूल जाते हैं, तो तुरंत इसे कैसे पता करें, यहां जानें। रोज सुबह उठकर करें ये 4 काम, दिल और दिमाग दोनों रहेंगे स्वस्थ अगर आपका इंस्टाग्राम अकाउंट उर्फी जावेद की तरह सस्पेंड जो जाता है तो यहां जानें कि आप अपना अकाउंट कैसे रिकवर कर सकते हैं। क्या पति और पत्नी दोनों पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभ के लिए पात्र हैं? इस योजना के नियमों के बारे में जानिए। अगर आप भी Free Movie Ticket प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप भी BookMyShow में ऐसे टिकट बुक करें। यहां जानें पूरी जानकारी सर्दियों में इन 5 खास चीजों को खाएं, ताकि शरीर गर्म रहे।